Essay on Mahatma Gandhi Jayanti in Hindi & English for All Class Students and Children 2 October 2020

Essay on Gandhi Jayanti in Hindi & English for All Class Students : Gandhi Jayanti Nibandh 2 October 2020 | Gandhi Jayanti Essay in Hindi and English Language 2 October | Gandhi Jayanti essay in English | Gandhi Jayanti Essay in Hindi | About Mahatma Gandhi Jayanti in Hindi and English | गांधी जयंती 2020 | गांधी जयंती पर निबंध हिंदी में यहां से देखें और पढ़े | People are you know that Gandhi Jayanti is celebrated in India as a National festival on 2nd October every year. We are Always celebrate Gandhi Jayanti to remember the birth of Gandhi. People Gandhi Full Name is Mohandas Karamchand Gandhi. Guys we are also called Mohandas Karamchand Gandhi as title of Father of the Nation or Rashtrapita and Bapu. He was a leader of the freedom struggle for India. On his birthday 2nd Oct we are celebrated as a National Holiday. Read given below Essay on Mahatma Gandhi in Hindi and English in 500 Words.

मेरा धर्म सत्य और अहिंसा पर आधारित है। सत्य मेरा भगवान है, अहिंसा उसे पाने का साधन।

तुम जो भी करोगे वो नगण्य होगा, लेकिन यह ज़रूरी है कि तुम वो करो।

Essay on Gandhi Jayanti in Hindi & English for All Class Students

Mahatma Gandhi Jayanti Nibandh 2 October 2020

दोस्तों बहुत से लोग महात्मा गांधी जयंती पर निबंध खोजते है | क्योकि सभी कक्षा 1, कक्षा 2, कक्षा 3, कक्षा 4, कक्षा 5, कक्षा 6, कक्षा 7, कक्षा 8, कक्षा 9, कक्षा 10, कक्षा 11, कक्षा 12 के बच्चो को कहा जाता है की महात्मा गांधी जयंती पर निबंध लिखो या सुनाओ | तो आज हम इस आर्टिकल पोस्ट में आपको दोनों भाषाओ हिंदी और इंग्लिश में निबंध उपलब्ध करवाने वाले है | आप इस निबंध को निचे से पढ़ सकते है | 100 शब्दों , 150 शब्दों, 200 शब्दों, 400 शब्दों और 500 शब्दों में महात्मा गांधी जयंती पर निबंध दिया गया है | साथियो प्रतिवर्ष हम 2 अक्टूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी जी का जन्मदिन को बड़े ही धूमधाम से मानते हैं। हर वर्ष की भाती इस वर्ष भी हम गाँधी जी का जन्मदिन मनाने जा रहे है | गाँधी जयंती का यह दिवस पूरे देश में ही नहीं अपितु विश्व भर में भी मनाया जाता है। आपको बता दें कि इस दिन 2 अक्टूबर को अंतराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाने की घोषणा 15 जून 2007 को की गयी थी। इस दिन को देश में राष्ट्रीय अवकाश भी मनाया जाता है। जबकि स्कूल , कॉलेज तथा सरकारी दफ्तरों में गाँधी जयंती के उपलक्ष्य में विशेष कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाता है | इस दिन देश के सभी नेता देश के राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि देते है। आप सभी जानते है की बापू ने हमेशा अहिंसा का रास्ता चुना था और वे हमेशा अहिंसा के रास्ते पर चलने की सिख देते थे | हम सभी लोग जानते है की देश को आजाद करवाने में राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी जी का बहुत बड़ा योगदान रहा था | वे हमेशा अंग्रेजी उत्पादों का पूरी तरीके से बहिष्कार करने की अपील करते थे | बापू ने कई आंदोलन किए थे उनमें से एक उदाहरण नमक आंदोलन का दे सकते है। दोस्तों हमने निचे हिंदी और अंग्रेजी दोनों ही भाषाओ में महात्मा गांधी जयंती पर निबंध दिए है | आप इस निबंध को सरल भाषा में पढ़ सकते है |

Mahatma Gandhi Jayanti Essay in English 2 October 2020

Students today we are celebrate Gandhi Jayanti. We are celebrate to remember the birth of Mohandas Karamchand Gandhi. Mahatma Gandhi’s full name was Mohandas Karamchand Gandhi. He was born on 2nd October 1869 in Porbandar. He played a very vital role in the freedom of India from the British rule. Mahatma Gandhi was the father of the nation. Students When Mahatma Gandhi was still a small boy. His family shifted from Porbandar to Rajkot, and Mahatma Gandhi was enrolled in the Alfred School. Mahatma Gandhi was married to Kasturba Gandhi. He became the president of the Indian National Congress in 1920 after returned to India in 1915. October 2, is celebrated as Gandhi Jayanti throughout India. So on 2nd October we are celebrate as Gandhi Jayanti and is a national holiday.

महात्मा गांधी जयंती पर निबंध हिंदी में यहां से पढ़े

प्रिय शिक्षकों और छात्रों, आज हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के लिए यहां एकत्रित हुए हैं| जिनका पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था | नका जन्म वर्ष 1869 में गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर हुआ था। | गाँधी जी की प्रारंभिक शिक्षा राजकोट में हुई । वहा विद्‌यार्थी जीवन में अधिक मेधावी छात्र न थे । एक साधारण छात्र होते हुए भी उन्होंने सत्य और अहिंसा के असाधारण गुण को अपनाया | महात्मा गांधी का विवाह 13 वर्ष की अल्पायु में कस्तुरबा युवती के साथ इंग्लैंड यात्रा के पूर्व ही हो गया था । महात्मा गांधी का जन्मदिन, 2 अक्टूबर, पूरे देश में गांधी जयंती के रूप में मनाया जाता है। उनका जन्म वर्ष 1869 में गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर हुआ था। महात्मा गांधी का परिवार व्यापारी वर्ग का था | 24 साल की उम्र में वे कानून की पढाई करने के लिए दक्षिण अफ्रीका गए और 1915 में वे भारत वापस आए। लौटने के बाद वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य बन गए। इसके साथ साथ वे कांग्रेस के अध्यक्ष भी बने। उन्होंने न केवल भारत की स्वतंत्रता के लिए ड़ाई लड़ी बल्कि उन्होंने अस्पृश्यता, जातिवाद, महिला अधीनता, आदि के लिए भी लड़ाई लड़ी। साथियो 2 अक्टूबर को एक राष्ट्रीय त्योहार के रूप में भी मनाया जाता है। लोग उनके उपदेशों और सिद्धांतों को आज भी याद करते है |

Leave a Comment